भारत-चीन के सीमा विवाद, ट्रंप बोले- अमेरिका बीच बचाव को तैयार

भारत-चीन के बीच सीमा विवाद को लेकर United States of America अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मध्यस्थता करने की बात कही है. डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट किया, अमेरिका भारत और चीन के बीच सीमा विवाद के मुद्दे पर मध्यस्थता करने के लिए तैयार है.

डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट किया, ‘हमने भारत और चीन दोनों को सूचना दिया है अगर वो चाहें तो सीमा विवाद में अमेरिका मध्यस्थता करने को तैयार है. ‘

We have informed both India and China that the United States is ready, willing and able to mediate or arbitrate their now raging border dispute. Thank you!— Donald J. Trump (@realDonaldTrump) May 27, 2020

गौरतलब है कि इस महीने की शुरुआत से ही लद्दाख में चीनी सैनिक और भारतीय सैनिक आमने-सामने हैं, चीन की ओर से लगातार सैनिकों की संख्या बढ़ाने और बेस बनाने की खबरें आ रही हैं. ऐसे में भारत भी पूरी मजबूती से डटा है.

बीते दिनो में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इस मसले पर प्रधानमंत्री कार्यालय में चर्चा की . पीएम मोदी ने मंगलवार को लद्दाख मामले पर पूरी जानकारी ली, इसके अलावा तीनों सेना के प्रमुखों से विकल्पो का सुझाव देने के लिए कहा गया

इस बैठक में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल भी मौजूद रहे, इस दौरान सेना प्रमुखों, सीडीएस से इस मसले पर ब्लू प्रिंट मांगा है. पीएम नरेंद्र मोदी की बैठक से पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने इस मसले पर बैठक की थी और ये फैसला हुआ था कि भारत लद्दाख बॉर्डर पर अपनी सड़क का निर्माण नहीं रोकेगा.

भारत भी अलर्ट मोड में

दरअसल, पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के पास पिछले कुछ दिनों से चीन की तरफ से सैन्य गतिविधियों के बढ़ने के बाद से दोनों देशों के बीच तनाव है. भारत के अपनी सीमा के अंदर सड़क निर्माण करने पर चीन विरोध जताता रहा है. चीन की हरकतों को लेकर भारत भी अलर्ट मोड में है. भारत और चीन की सेनाओं की हाल में सीमा पर गतिविधियां बढ़ीं हैं. बताया जा रहा है कि 2017 में उपजे डोकलाम विवाद जैसी स्थिति फिर से दोनों देशों के बीच उत्पन्न हुई है.

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *