आखिर मारा गया विकास दुबे


कानपुर हत्याकांड का मुख्य आरोपी गैंगेस्टर आखिर कर पुलिस एनकाउंटर में मारा गया। जैसा की पता है की उसकी गिरफ्तारी उज्जैन के महाकाल के मंदिर से हुई थी और वो अकाल मृत्यु से बचने के लिए महाकाल जी के शरण में गया था पर शायद ये भूल गया की महाकाल कभी भी अन्याय का साथ नहीं देते अगर ऐसा होता तो रावण कभी नहीं मरता लेकिन भगवान ने खुद ही उसे अवतार लेकर मारा था फिर ये कैसे बच सकता था।
आठ पुलिस पुलिस वालो की नृसंस हत्या करने के बाद ये उज्जैन में पकड़ा गया और वह से UP STF की टीम उसे रिमांड पर कानपुर ले जा रही थी लेकिन शहर से 17 किमी पहले बर्रा थाना क्षेत्र में सुबह 6:30 बजे काफिले की एक कार पलट गई और मौका पाकर पुलिस का पिस्टल छीनने लगा पुलिस पर हमला करने की कोशिश किया जवाबी कार्यवाही में इसको कमर और सीने में २ गोली लगी ७ बजकर ५५ मिनट पे उसे विकास दुबे को मृत घोसित किया गया
इस कार्यवाही से UPपुलिस ने भी अपना पाप धो लिया जो की उसपे नाकामी दाग लग रहे थे। और मुख्यमंत्री ने अपना वादा पूरा किया की अपराधी बक्सा नहीं जायेगा
यह कुछ बातें ध्यान देने योग्य है की ये मंदिर में पकड़ा गया और इसका किसी ने विरोध नहीं किया वही कुछ आरोपियों को मस्जिद से पकड़ने पर एक धर्म विशेष खतरे में आ जाता है। और क्या कारन है की एक आरोपी मौलाना साद आजतक नहीं पकड़ा गया उसका उसके धर्म के लोग कहते हैं की वो धरम विशेष का है इसलिए उसे पड़ने की कोशिस हो रही है। कितना अच्छा होता जैसे सभी धर्मो के लोग विकास दुबे के लिए मुखर हुए वैसे ही मौलाना साद के लिए होते मौलाना साद कब पकड़ा जायगा उसका इंतजार रहेगा ये प्रश्न तो रहेगा की विकास दुबे पकड़ा गया मारा गया ये अच्छी बात है पर मौलाना साद कब पकड़ा जायेगा।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *